NO TO Hijab: Arya women open front in Iran against hijab, making video in open hair

NO TO Hijab: हिजाब के खिलाफ ईरान में Arya महिलाओं ने खोला मोर्चा, खुले बालों में बना रहीं Video

Blog Bollywood Delhi Don't Miss Fashion and Trends World

NO TO Hijab: ईरानी महिलाएं इन दिनों अपनी हक के लिए सड़कों पर उतार आई हैं। इसकी वजह यहां का हिजाब कानून है।

तेहरान. इस्लामी देश ईरान में हिजाब और शुद्धता दिवस के मौके पर महिलाओं ने हिजाब को सार्वजनिक स्थानों पर फेंक कर अपना विरोध दर्ज कराया.

ईरान की राज्य समाचार एजेंसी के मुताबिक ईरानी महिलाओं ने मंगलवार को देश भर में एक हिजाब विरोधी अभियान में भाग लिया, जहां उन्होंने हिजाब को हटाकर वीडियो भी बनाये. महिलाओं ने जमकर ईरान के हिजाब पहनने के कड़े कानून की अवहेलना की.

ईरान में 1979 की इस्लामी क्रांति के बाद इस कानून को लाया गया था. कानून के मुताबिक नौ साल से अधिक उम्र की सभी महिलाओं को सार्वजनिक तौर पर अपने बाल ढकना अनिवार्य है. कानून को प्रभावी रूप से लागू करने का जिम्मा सरकार ने सेना को दिया हुआ है.

विरोध करती महिलाओं के बीच सरकार ने सरकारी चैनल पर एक वीडियो प्रसारित किया जिसमें 13 महिलाओं को हरे रंग का हिजाब पहनकर नृत्य करते दिखाया गया है. हरे हिजाब और लंबे सफेद वस्त्र पहने हुए महिलाओं ने क़ुरान की आयतों के माध्यम से हिजाब का महत्तव समझाया. हालांकि, वीडियो का सोशल मीडिया पर जमकर उपहास बनाया गया है.

हिजाब विरोधी सोशल मीडिया अभियान का नेतृत्व अमेरिकी कार्यकर्ता मसीह अलीनेजाद ने किया था. विरोध से पहले, मसीह अलीनेजाद ने ट्वीट कर पहले ही प्रदर्शन की घोषणा कर दी थी.

उन्होंने ट्विटर पर लिखा कि कल ईरानी महिलाएं अपना हिजाब हटाकर इस्लामी शासन को हिला देंगी और पूरे ईरान में सड़कों पर #No2Hijab कहने के लिए निकलेंगी. इसे महिला क्रांति कहा जाता है. ईरान में #WalkingUnveiled अपराध है. ईरानी पुरुष भी हमारे साथ शामिल होंगे.

देश के बहुत ही रूढ़िवादी धार्मिक वर्ग द्वारा समर्थित ईरानी राष्ट्रपति इब्राहिम रायसी ने बढ़ रहे हिजाब कानून के विरोध को इस्लामी समाज में नैतिक भ्रष्टाचार का एक संगठित प्रचार करार दिया है. फिलहाल ईरानी सरकार इस कानून में कोई ढील बरतने को तैयार नहीं दिख रही है.

NO TO Hijab: ईरान में हिजाब को लेकर विरोध हो रहा है। महिलाएं हिजाब के विरोध में सड़कों पर उतर आई हैं। वे अपना नकाब हटाकर वीडियो बना रहा हैं। ईरान की सरकारी न्यूज एजेंसी के अनुसार औरतें हिजाब हटाने के वीडियो पोस्ट कर इस्लामिक रिपब्लिक के सख्त नियमों का विरोध कर रही हैं। बता दें ईरानी कानून के मुताबिक महिलाओं को सार्वजनिक तौर पर बाल ढंकना जरूरी है। देश में अधिकारियों ने 12 जुलाई को ‘हिजाब एंव शुद्धता दिवस’ के रूप में घोषित किया था। इसी का विरोध महिलाओं ने किया।

हिजाब को फेंक रही हैं महिलाएं

सोशल मीडिया पर वीडियो शेयर किए जा रहे हैं, जिसमें महिलाओं के साथ पुरुष भी कानून के खिलाफ अपना विरोध जता रहे हैं। वीडियो में महिलाएं स्कार्फ और शॉल को फेंकते हुए नजर आती है। कई औरतें बिना हिजाब के खुले बालों में घूम रही हैं।

सरकार ने पैंतरा आजमाया

ईरान सरकार ने हिजाब को अनिवार्य बनाने के लिए सुरक्षा बलों को निर्देश दिए हैं। सेना हिजाब अनिवार्य बनाने के लिए कड़े प्रयास कर रही है। हालांकि इन सबके बावजूद महिलाओं के विरोध प्रदर्शन बढ़ते जा रहा है। मंगलवार को महिलाओं को रोकने के लिए सरकार ने नया पैंतरा आजमाया। सरकारी टेलीविजन ने हिजाब और शुद्धता समारोह का वीडियो प्रसारित किया। इसमें 13 महिलाओं को हरे रंग के हिजाब और सफेद कपड़ों में दिखाया गया। वे महिलाएं कुरान की आयतें पढ़ रही थीं। इस वीडियो को सोशल मीडिया पर जमकर ट्रोल किया गया।

https://youtu.be/M1JxeAldw2s

यह भी पढ़ें

संसद में अशोक स्‍तंभ पर नया विवाद, शेरों को लेकर विपक्ष ने जताई आपत्ति; एक नेता ने तो यहाँ तक कहा की शेरो की जगह भेड़की मूर्ति लगवाए सरकार

यह भी पढ़ें

Udaipur नूपुर शर्मा के सपोर्ट में पोस्ट करने पर गोल टोपी लगाये लोगो ने की तिलक लगाने वाले युवक की गला काटकर हत्या