आगरा: पूर्व IAS अधिकारी की बेटी ने कारोबारी पर दर्ज कराया लव जिहाद का केस, आरोपी गिरफ्तार –

Agra: Former IAS officer’s daughter files love jihad case against businessman, accused arrested-

आगरा: पूर्व IAS अधिकारी की बेटी ने कारोबारी पर दर्ज कराया लव जिहाद का केस, आरोपी गिरफ्तार-

ताजनगरी में एक बड़े घर की विवाहित महिला लव जिहाद का शिकार बन गई। पति की मौत के बाद अधिकारी की बेटी से लखनऊ के ही मुस्लिम युवक ने अपना नाम बदलकर दोस्ती कर ली। पहले धोखे से तिलक लगाकर फोटो खींच लिए।

इनके आधार पर ही ब्लैकमेल करके उसने आर्य समाज मंदिर में शादी कर ली। शादी के बाद सच्चाई सामने आने के बाद आरोपित अपने असली रूप में आ गया था। वह लगातार महिला का शारीरिक और मानसिक शोषण कर रहा था। इतना ही नहीं महिला की बेटी और ससुर के नाम के होटल का फंड भी वह हड़प रहा था।

शनिवार रात को होटल में महिला के साथ आरोपित ने मारपीट कर दी। इसके बाद महिला ने सदर थाने में आरोपित के खिलाफ दुष्कर्म, धोखाधड़ी, चौथ वसूली और विधि विरुद्ध मतांतरण प्रतिषेध की धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने आरोपित गिरफ्तार कर लिया है।

उत्तर प्रदेश के आगरा से लव जिहाद का हाई प्रोफाइल मामला सामने आया है. आरोपी ने रिटायर्ड आईएएस की बेटी से पहचान छुपाकर धोखे से शादी की फिर धर्म परिवर्तन का दबाव बनाने लगा. इस दौरान वो लड़की को बार-बार धमकी देता था. महिला अपने पति की मौत के बाद आरिफ के संपर्क में आई थी. फिलहाल पीड़ित महिला की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

आरिफ ने आदित्य बनकर लूटी अस्मत, धमकाकर करता रहा शारीरिक शोषण यूपी के आगरा में एक हाई प्रोफाइल लव जिहाद का मामला सामने आया है। महिला ने आरोप लगाया है कि आरिफ हाशमी नाम के व्यक्ति ने अपना धर्म छिपाकर पहले उससे दोस्ती की, फिर धोखे से मांग में सिंदूर भरने की फोटो खींचकर ब्लैक मेल करने लगा।

यही नहीं आरोपी ने रेप किया और धर्म परिवर्तन का भी दबाव बनाया। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। बता दें कि पीड़िता पूर्व आईएएस की बेटी है और उसके ससुर आगरा के पूर्व मेयर रहे हैं। पिता की मौत हो चुकी है, जबकि ससुर अभी जिंदा हैं।

महिला की ससुराल आगरा के एक प्रतिष्ठित परिवार में है। वह रिटायर्ड आइएएस अधिकारी की बेटी बताई जा रही है।पति की 2005 में मौत हो गई। पिता का भी देहांत हो चुका है। मुकदमे के अनुसार, पति की मौत के बाद लखनऊ में आयोजित एक पार्टी में महिला की मुलाकात आरिफ से हुई थी।

उसने महिला को अपना नाम आदित्य आर्य बताया और खुद को टिंबर कारोबारी बताया। महिला से बातचीत में उसने मिलकर कारोबार करने का झांसा दिया। इसी बहाने वह घर आने लगा। एक दिन किसी पार्टी में आरोपित ने महिला के टीका लगाते हुए योजनाबद्ध तरीके से फोटो खिंचा लिया, जिससे लग रहा है कि वह मांग भर रहा है।

इस फोटो से बदनाम करने का डर दिखाकर वह समय-समय पर धन एेंठता रहा। महिला को उसका असली नाम आरिफ हासमी होने की जानकारी मिल गई। इसके बाद आरोपित ने महिला से कहा कि वह उसका भी मतांतरण करा देगा। घर में रखा मंदिर भी उसने फेंक दिया। इसके बाद वह शारीरिक, मानसिक और आर्थिक शोषण करता रहा। महिला के ससुर और बेटी के नाम आगरा में एक होटल है।

वह होटल में रहती थी। आरोपित भी यहीं रहने लगा। उसने होटल का फंड भी हड़प लिया। वह मारपीट करता था और मां को मारने की धमकी देता था। शनिवार को आरोपित ने उसके साथ मारपीट की। किसी तरह महिला ने इसकी शिकायत पुलिस से कर दी। महिला के चाचा सेवानिवृत्त आइपीएस अधिकारी हैं। उन्होंने अधिकारियों से बात की। इसके बाद सदर थाने में आरोपित के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है।

पीड़िता ने अपनी शिकायत में बताया है कि वह लखनऊ में एक पार्टी में गई थी। जहां उसकी मुलाकात आरिफ हाशमी से हुई थी। आरिफ ने अपना नाम आदित्य आर्य बताया और अपने आपको टिंबर का एक बड़ा कारोबारी भी बताया। आरिफ लखनऊ के ऐशबाग में वुड वर्ल्ड इंडिया कंपनी में खुद को कारोबारी बताता था। इसके बाद उन दोनों का मुलाकातों का सफर शुरू हो गया।

उत्तर प्रदेश के आगरा में लव जिहाद का हाई प्रोफाइल मामला सामने आया है। लखनऊ के मुस्लिम युवक ने नाम बदलकर पूर्व आइएएस की विधवा बेटी से वर्ष 2010 में आर्य समाज पद्धति से शादी कर ली। एक साल बाद असलियत सामने आने पर दबाव बनाकर उसका अजमेर में मतांतरण (धर्म परिवर्तन) करा दिया।

साथ ही शादी के ग्यारह वर्ष तक पत्नी का उसके पूर्व पति के होटल में रहकर शारीरिक और मानसिक शोषण करता रहा। शनिवार को मारपीट करने पर पीड़िता ने आगरा के सदर थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। महिला के चाचा यूपी में पुलिस विभाग में उच्च पद पर रहे हैं, वर्तमान में राजनीतिज्ञ हैं।पीड़िता के पति एक होटल कारोबारी थे।

2005 में उसके पति की मौत हो गई थी। इसके बाद पीड़िता खुद उस होटल व्यवसाय को देख रही थी। पीड़िता ने बताया कि आरिफ हाशमी ने एक बार धोखे से उसके माथे पर टीका लगाने के दौरान उसका फोटो खींच लिया था। फोटो में ऐसा लग रहा था कि जैसे वह उसकी मांग भर रहा है। इसके बाद वह लगातार उसे ब्लैकमेल करता रहा और उसे अपने जाल में फंसा लिया।

महिला की पूर्व में आगरा के एक प्रतिष्ठित परिवार में शादी हुई थी। वर्ष 2005 में उसके पति की मृत्यु हो गई। इसके बाद महिला ससुर व बेटी के नाम होटल को संचालित करने लगी। महिला के पिता का भी देहांत हो चुका है। दर्ज रिपोर्ट के अनुसार, महिला को वर्ष 2010 में लखनऊ में आयोजित एक पार्टी में जाना पड़ा था। जहां उसकी मुलाकात लखनऊ के राजाजी पुरम ताल कटोरा निवासी आरिफ हाशमी से हुई थी।

आरिफ ने अपना नाम आदित्य आर्य और खुद को टिंबर का बड़ा कारोबारी बताया और महिला को अपने साथ कारोबार करने का झांसा दिया।इसी बहाने वह आगरा में महिला के घर आने लगा। एक दिन किसी पार्टी में आरोपित ने महिला के टीका लगाते हुए योजनाबद्ध तरीके से फोटो खिंचा लिया, जिसमें वह मांग भरता प्रतीत हो रहा है। इस फोटो से बदनाम करने का डर दिखाकर वह समय-समय पर धन ऐंठने लगा।

आरोपित ने दबाव बनाकर महिला से आर्यसमाज पद्धति से शादी कर ली। एक वर्ष बाद असली नाम आरिफ हाशमी पता चलने पर आरोपित ने महिला से भी मतांतरण करने को कहा। घर में रखा मंदिर भी फेंक दिया। शारीरिक, मानसिक और आर्थिक शोषण करता रहा।लखनऊ के मुस्लिम युवक ने नाम बदलकर पूर्व आइएएस की विधवा बेटी से शादी की।

एक साल बाद असलियत सामने आने पर दबाव बनाकर उसका अजमेर में मतांतरण करा दिया।पीड़िता ने बताया कि वह आगरा के शमसाबाद रोड स्थित चाणक्य होटल में रूम नंबर 118 में रुकी थी। 21 अप्रैल को आरिफ होटल के रूम में आया और उसने उसकी कनपटी पर लाइसेंसी पिस्टल लगाकर रुपयों की मांग करने लगा, मना करने के बाद उसने उसकी बेरहमी से पिटाई लगाई।

इसके अलावा पीड़िता ने अप्राकृतिक सेक्स करने के भी आरोप लगाए हैं।लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश के आगरा में लव जिहाद का हाई प्रोफाइल मामला सामने आया है। लखनऊ के मुस्लिम युवक ने नाम बदलकर पूर्व आइएएस की विधवा बेटी से वर्ष 2010 में आर्य समाज पद्धति से शादी कर ली। एक साल बाद असलियत सामने आने पर दबाव बनाकर उसका अजमेर में मतांतरण (धर्म परिवर्तन) करा दिया।

साथ ही शादी के ग्यारह वर्ष तक पत्नी का उसके पूर्व पति के होटल में रहकर शारीरिक और मानसिक शोषण करता रहा। शनिवार को मारपीट करने पर पीड़िता ने आगरा के सदर थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। महिला के चाचा यूपी में पुलिस विभाग में उच्च पद पर रहे हैं, वर्तमान में राजनीतिज्ञ हैं।आरोपी आरिफ हाशमी पुत्र फिरोज अख्तर हाशमी का लखनऊ और आगरा में निवास है।

सोशल मीडिया एकाउंट पर आरिफ ने अखिलेश यादव के साथ फोटो शेयर की है। आरिफ राजनेताओं में अपनी खास पैठ रखता है। कई बड़े नेताओं के साथ उसकी दोस्ती की बात की जा रही है।महिला की पूर्व में आगरा के एक प्रतिष्ठित परिवार में शादी हुई थी। वर्ष 2005 में उसके पति की मृत्यु हो गई। इसके बाद महिला ससुर व बेटी के नाम होटल को संचालित करने लगी। महिला के पिता का भी देहांत हो चुका है।

दर्ज रिपोर्ट के अनुसार, महिला को वर्ष 2010 में लखनऊ में आयोजित एक पार्टी में जाना पड़ा था। जहां उसकी मुलाकात लखनऊ के राजाजी पुरम ताल कटोरा निवासी आरिफ हाशमी से हुई थी। आरिफ ने अपना नाम आदित्य आर्य और खुद को टिंबर का बड़ा कारोबारी बताया और महिला को अपने साथ कारोबार करने का झांसा दिया।इसी बहाने वह आगरा में महिला के घर आने लगा।

एक दिन किसी पार्टी में आरोपित ने महिला के टीका लगाते हुए योजनाबद्ध तरीके से फोटो खिंचा लिया, जिसमें वह मांग भरता प्रतीत हो रहा है। इस फोटो से बदनाम करने का डर दिखाकर वह समय-समय पर धन ऐंठने लगा। आरोपित ने दबाव बनाकर महिला से आर्यसमाज पद्धति से शादी कर ली। एक वर्ष बाद असली नाम आरिफ हाशमी पता चलने पर आरोपित ने महिला से भी मतांतरण करने को कहा।

घर में रखा मंदिर भी फेंक दिया। शारीरिक, मानसिक और आर्थिक शोषण करता रहा।दबाव बनाकर अजमेर ले जाकर मतांतरण करा लिया और महिला का नाम आइशा हाशमी रख दिया। आरिफ से शादी होने के बाद भी महिला यहां पूर्व ससुराल में रहती रही। उसके साथ आरिफ भी होटल में ही रहने लगा। आरिफ ने महिला से होटल से होने वाली कमाई भी हड़प ली और महिला को यातनाएं देने लगा।

महिला की लखनऊ में रहने वाली मां को जान से मारने की धमकी देता था। शनिवार को मारपीट करने पर महिला ने रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस ने दुष्कर्म, धोखाधड़ी, विधि विरुद्ध धर्मांतरण प्रतिषेध अधिनियम के तहत मुकदमा दर्जकर आरोपित को गिरफ्तार कर लिया।

इंस्पेक्टर सदर अजय कौशल ने बताया कि आरोपित को कोर्ट के आदेश पर जेल भेज दिया गया है।पुलिस ने आरोपी आरिफ पर मारपीट, हत्या का प्रयास, दुष्कर्म, अप्राकृतिक कृत्य, लूट, धोखाधड़ी, विधि विरुद्ध धर्मान्तरण प्रतिशोध अधिनियम जैसी गंभीर धाराओं में मुकद्दमा दर्ज किया है।

Agra: Former IAS officer's daughter files love jihad case against businessman, accused arrested

Agra: Former IAS officer’s daughter files love jihad case against businessman, accused arrested

You may also like...