नई दिल्ली: रेड्डी लैब्स ने डीआरडीओ की मदद से कोविड दवा 2 डीजी को 990 रुपये की कीमत में किया पेश-

नई दिल्ली। डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गेनाइजेशन डीआरडीओ की कोरोना दवा 2 डीजी डीऑक्सी-डी-ग्लूकोज को डॉ रेड्डी लैब ने बाजार में उतार दिया है। इसका नाम और कीमत भी तय की गई है। एंटी कोरोना वायरस दवा को खुले बाजार में 2 डीजीटीएम नाम से बेचा जाएगा।

कोरोना वायरस दवा के एक सैशे की कीमत 990 रुपये बताई गई है।डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गेनाइजेशन डीआरडीओ ने एक ऐसी दवा के आपातकालीन उपयोग की अनुमति दी है जो कोरोना संक्रमण से लड़ने में सहायक सिद्ध होगी।

इस दवा को 2 डीऑक्सी-डी-ग्लूकोज 2 डीजी नाम से पुकारा जाएगा। इसे ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने मंजूरी दे दी है। हैदराबाद की प्रमुख दवा कंपनी डॉ रेड्डीज लैब्स इस दवा को तैयार कर रही है।

सरकारी संस्थानों में सब्सिडी पर मिलेगी-

डॉ रेड्डीज लैब का कहना है कि शुरुआत में कंपनी 2DG दवा को देश के महानगरों में मौजूद हॉस्पिटल और बड़े शहरों में बेचेगी। इसके बाद 2 डीजी देश के अन्य ये इलाकों तक भी अपनी पहुंच बनाएगी। डॉ रेड्डीज लैब के अनुसार 2 डीजी नाम से इसे कमर्शियल तौर पर बाजार में लॉन्च किया गया है।

इसकी कीमत 990 रुपये तय की गई है। सरकारी संस्थानों को इसकी डोज सब्सिडी वाली दरों पर मिल सकती है। डीआरडीओ की मदद से इंस्टीट्यूट ऑफ न्यूक्लियर मेडिसिन 2 डीजी को तैयार किया है। 2 डीजी कोरोना के हल्के लक्षणों के साथ गंभीर मरीजों पर कारगर साबित हुई है।

सबसे बड़ी बात है कि कोरोना वायरस के गंभीर मरीजों की ऑक्सिजन पर निर्भरता को ये कम कर सकती है।डीआरडीओ का कहना है कि कोरोना वायरस दवा 2 डीजी पाउडर के रूप में मिलेगी।

इसे पानी में मिलाकर लिया जाएगा। यह दवा कोरोना से संक्रमित कोशिकाओं में एकत्र होकर अपना असर दिखाने लगती है। दवा की खास बात है कि यह कोविड से संक्रमित कोशिकाओं की पहचान कर लेती है।

You may also like...