Congres demanding dismissal of minister and cancellation of examinations before vaccination:-

मंत्री की बर्खास्तगी और वैक्सिनेशन से पहले परीक्षाओं रद करने की मांग को लेकर कांग्रेस का प्रदर्शन:-

.प्रयागराज: उत्तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा मंत्री डॉ सतीश द्विवेदी के भाई डॉ अरुण द्विवेदी ने व्यक्तिगत कारणों का हवाला देते हुए सिद्धार्थ यूनिवर्सिटी में मनोविज्ञान विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर पद से इस्तीफा दे दिया है।

यूनिवर्सिटी के कुलपति ने इसकी पुष्टि की है। गौरतलब है कि शिक्षा मंत्री के भाई की गरीब कोटे से नियुक्ति की खबर सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद राजभवन ने मामले का संज्ञान लिया था।

चर्चा थी कि शिक्षा मंत्री ने भाई की ईडब्लूएस कोटे से नियुक्ति अपने रसूख के बल पर करवाई थी। वहीं वैक्सिनेशन से पहले बोर्ड परीक्षाओं को रद कराए जाने की मांग करते हुए यूपी कांग्रेस के आवाहन पर जिला शहर कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा वर्चुअल विरोध प्रदर्शन जीरो रोड स्थित पार्टी कार्यालय पर किया गया।

सोशल मीडिया पर वायरल पोस्ट के मुताबिक, मंत्री के भाई की नियुक्ति गरीब कोटे से हुई थी। पोस्ट पर लोगों ने जमकर चुटकी ली और नियुक्ति पर सवाल भी उठाए। विपक्ष ने भी इस मामले पर राज्य सरकार और बेसिक शिक्षा मंत्री को आड़े हाथ लिया। मामला बढ़ता देख भाई अरुण द्विवेदी ने सिद्धार्थ यूनिवर्सिटी के असिस्टेंट प्रोफेसर के पद से इस्तीफा तो दे दिया.

लेकिन अब कांग्रेस ने बेसिक शिक्षा मंत्री से भी इस्तीफे की मांग की है। जीरो रोड स्थित पार्टी कार्यालय में जुटे नेताओं ने केन्द्र एवं प्रदेश सरकार से मांग करते हुए कहा कि वैक्सिनेशन पहले परीक्षाओं को रद किया जाए।

इस दौरान: जिलाध्यक्ष सुरेश यादव, अरुण तिवारी, विवेकानंद पाठक, मुकुन्द तिवारी, संजय तिवारी, हसीब अहमद, निशांत रस्तोगी, बृजेश सिंह, मन्नान अंसारी, आशीष पाण्डेय, राकेश पटेल, मनोज पासी, संगमलाल गुप्ता, मीनू दूबे, पवन पचौरी, घनश्याम पटेल, रईस अहमद, विनय शुक्ला, संदीप सरोज समेत आदि लोग मौजूद रहे

You may also like...